बंद करे

श्री कृष्ण संग्रहालय

दिशा

यह संग्रहालय, भगवान श्री कृष्‍ण को समर्पित है जिसे कुरूक्षेत्र विकास प्राधिकरण के द्वारा 1987 में बनवाया गया था। इसे बाद में मौजूदा इमारत में स्‍थानांतरित कर दिया गया था। इसका भारत के तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति श्री आर. वैंकटारमन के द्वारा उद्घाटन किया गया था। इस हाउस में दो अन्‍य घर भी है जिन्‍हे मल्‍टीमीडिया महाभारत और गीता गैलरी के नाम से जाना जाता है और इसकी स्‍थापना 2012 में तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति श्रीमती प्रतिभा पाटिल के द्वारा की गई थी। इस संग्रहालय में भगवान श्री कृष्‍ण के बारे में समस्‍त जान‍कारियां प्रदान की जाती है। उनके सभी स्‍वरूपों, अवतारों, कार्यो, आदि के बारे में बताया जाता है। भगवान श्रीकृष्‍ण को एक दार्शनिक, सच्‍चे धार्मिक नेता और प्रेमी के रूप में भी कलाकृतियों, मूर्तियों, चित्रों, शिलालेखों आदि के द्वारा दर्शाया गया है।

फोटो गैलरी

  • श्रीकृष्ण संग्रहालय
  • श्रीकृष्ण संग्रहालय अंदर
  • मूर्ति

कैसे पहुंचें:

बाय एयर

निकटतम हवाई अड्डे दिल्ली और चंडीगढ़ में हैं, जो सड़क और रेल द्वारा कुरुक्षेत्र से जुड़े हुए हैं। टैक्सी सेवाएं हवाई अड्डे से भी उपलब्ध हैं। दिल्ली कुरुक्षेत्र से 160 किलोमीटर की दूरी पर है।

ट्रेन द्वारा

कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन, जिसे कुरुक्षेत्र जंक्शन भी कहा जाता है, मुख्य दिल्ली-अंबाला रेलवे लाइन पर स्थित है। कुरुक्षेत्र देश के सभी महत्वपूर्ण शहरों और शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। शताब्दी एक्सप्रेस यहां रूकती है।

सड़क के द्वारा

हरियाणा रोडवेज बसें और अन्य पड़ोसी राज्य निगम बसें कुरुक्षेत्र को दिल्ली, चंडीगढ़ और अन्य महत्वपूर्ण स्थानों जैसे अन्य शहरों से जोड़ती हैं। दिल्ली (160 किलोमीटर), अंबाला (40 किलोमीटर) और करनाल (39 किलोमीटर) से जुड़े बसें अक्सर उपलब्ध हैं। कुरुक्षेत्र राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 1, पिपली से लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर है।